शुक्रवार, 20 अप्रैल 2018

फैशन में प्रिंट के नए अंदाज-अनुजा भट्ट

मौसम के हिसाब से इन दिनों फैशन में जो कार्ड खेला जा रहा है वह है प्रिंट कार्ड। प्रिंट अपने नयानाभिराम रंगों और डिजाइन में सभी को लुभा रहा है। फिर चाहे वह परंपरागत परिधान हो जूते चप्पल बैग या फिर टाई। हमेशा की तरह एक तरफ रंगबिरंगे फूल हैं तो विदेशी प्रिंट पर भी फैशन प्रेमियों की नजर है। डिजाइनर कहते हैं कि फैशन में प्रिंट का प्रयोग न करना ठीक वैसे ही है जैसे केक में चीनी का इस्तेमाल न करना। यानी बिना प्रिंट के फैशन फीका फीका लगेगा। जैसे बिना चीनी का केक पसंद नहीं किया जाता ठीक वैसे ही ड्रेस के साथ भी है। इसलिए दुनियाभर के डिजाइनर अपने फैशन सेगमेंट में प्रिंट पर विशेष ध्यान देते हैं।
फैशन में इन दिनों देखो पसंद करो और अपने मन मुताबिक डिजाइन करवा कर पहनने का चलन है। डिजाइन तक आम आदमी की पहुंच बन गई है। महानगर से लेकर गली मोहल्ले तक में डिजाइनर हैं। जो आपसी पसंद से डिजाइन बना रहे हैं। आपके हाथ में आपकी पसंद की चीज है। फैशन में इन दिनों आपको 80 के दशक की याद दिलाते प्रिंट नजर आएंगे। फैशन को समझने के लिए 80 के दशक की फिल्में देखिए।
प्रिंट में लंबी लंबी लाइन के साथ और भी तरह के ज्यामितिक डिजाइन देखने को मिल रहे हैं। इस तरह के डिजाइन में बिंदुओं का भी प्रयोग कई तरह से किया जाता है। इन बिंदुआें की सहायता से कई तरह के डिजाइन बनाए जा सकते हैं। अफ्रीकन प्रिंट में इस तरह के कई प्रयोग होते हैं। जहां ज्यामतिक डिजाइन बनाने के लिए बिंदुओं का प्रयोग होता है।
स्ट्रिप्स का मतलब है कि निश्चित प्रकार की संख्या में एक दम बराबर बराबर के स्पेस में प्रिंट होना। बहुत सारे रंगों और आकृतियों में डिजाइनर अपने तरीके से बदलाव लाते हैं। और जब बात फूलों की हो तो हर किसी के फूल आकर्षित करते हैं लेकिन फूल के साथ साथ पिट्टियां और नारे (स्लोगन का प्रयोग) करते हैं। यह स्लोगन कई तरह के संदेश देते हैं। आजकल फेमिली स्लोगन और एक ही रंग वाले परिधान का मौसम है जिसे लोग उत्सव के मौके पर पहनते हैं। मदर्स डे फादर्स डे के मौके पर आपने ऐसी टीशर्ट जरूर देखी होगी।
2017 के फैशन संग्रह में यह बात स्पष्ट है कि लंबी धारियां या चैक का प्रिंट अंतरराष्टीय स्तर पर छाया रहा। गहरे रंगें में काला और धूसिया रंगों की जगह शरबती और इंद्रधनुषी रंगें ने ले ली। इन रंगों में सजे प्रिंट आपको सब जगह दिखाई देंगे चाहे आप माल में शापिंग कर रहे हो या फिर समुद्रे के किनारे घूम रहे हो। गर्मियों की धूप से बचने के लिए किसी रिजार्ट में ही क्यूं ना बैठे हो । इंद्रधनुषी रंगों में भी पटिट्यां अपना रंग जमाती हैं। यहां तक कि बुनाई किए गए कपड़ें में भी पट्टियों का प्रयोग किया जा रहा है। बुनाई किया हुआ यह कपड़ा मैक्सी ड्रेस में सबसे ज्यादा पसंद किया जाता है। लंबी लहरदार स्कर्ट या घाघरे में भी यह प्रिंट दिखाई दे रहा है।
फैशन में इन दिनों पजामा पार्टी की डिमांड ज्यादा है। पैजामे का स्टाइल वही पुराना है पर अब यह अलग अलग तरीके के प्रिंट में दिखाई दे रहा है। पहनने में यह आरामदायक है इसलिए यह फैशन में शामिल हे गया है किशोरों सो लेकर युवा हर कोई इसे पहन रहा है। पैजामे को आप छोटा या बड़ा अपनी सुविधानुसार पहन सकते हैं। थीम के साथ ही साथ डिजाइनर की नजर टीवी पर दिखाए जा रहे कार्टून करेक्टर पर भी है वहां वह किसी खास प्रिंट को फालो कर रहे हैं। प्रिंटेड डिजाइन के इस फैशन के लिए गिंगहेम पैटर्न शब्द का प्रयोग किया जाता है जिसका अर्थ है छींटदार सूती कपड़ा या रंगीन सूत का बुना हुआ धारीदार कपड़ा। यह बैगनी लाल और नारंगी रंग में ज्यादा डिजाइन किया जा रहा है। पाप क्लचर का प्रभाव फैशन पर दिखाई दे रहा है।
बदलते फैशन का असर आजकल पार्टियों में भी दिखाई देने लगा है। इसी चलन में आजकल पार्टियों या अन्य समारोहों में पहनी जाने वाली ड्रेसेज के लिए एनिमल प्रिंट यानी चितकबरे से मिलते हुए कलर एवं डिजाइन विशेषतौर पर पसंद किए जा रहे हैं। केवल ड्रेसेस में ही एनिमल प्रिंट का क्रेज हो ऐसा नही ंफैशन डिजाइनरों के अनुसार एनिमल प्रिंट में जिन रंगों का उपयोग किया जाता है, उसमें धारियाँ व धब्बे तो ब्लैक या ब्राउन रंग के ही होते हैं। हाँ, बेसिक रंग अलग-अलग रुचि के अनुसार हो सकते हैं। सफेद, पीला इस तरह के प्रिंट ग्लैमरस, स्टाइलिश और दिलकश नजर आते हैं। यंगस्टर्स में सबसे ज्यादा लोकप्रिय बाघ और चीता प्रिंट है। आजकल कॉटन, मटका सिल्क, शिफॉन, कोसा और अन्य सिंथेटिक क्लॉथ पर ।. डजाइनर्स का कहना है कि ग्लोबलाइजेशन के कारण हॉलीवुड में चलने वाला फैशन मेट्रो सिटीज के माध्यम से जल्दी ही छोटे-छोटे शहरों तक पहुँच जाता है। यही वजह है कि यंगस्टर्स को एनिमल प्रिंट काफी पसंद आ रहे हैं। साधारण कपड़ों को वन्यजीवों के स्किन टेक्सचर का रूप देते हुए फैशन डिजाइनरों ने एनिमल प्रिंट को पार्टी की शान बना दिया है। इन दिनों जंगल के राजा बाघ की धारियाँ, साँप पर पड़ी स्क्रेब धारियाँ, चीते के ़ि़़डजाइन पसंद किए जा रहे हैं।
अधिक्तर एनिमल प्रिंट का प्रयोग लेगिंग्स के लिए किया जा रहा है इसके साथ आपका टॉप थोडा लंबा होना चाहिए जो आपकी बॉटम को कवर करें। छोटा टॉप इनके साथ अच्छे नहीं लगते। आप इनके साथ ट्यूनिक या जैकेट के साथ लंबा कुर्ता भी पहन सकती हैं। एनिमल प्रिंट लेगिंग खुद में ही बहुत बोल्ड होती हैं, इसलिए बेहतर होगा कि आप इनके साथ बहुत कम व बेसिक एक्सेसरीज ही कैरी करें। आपकी एक्सेसरीज जितनी बेसिक व कम होंगी, वह आपके लुक को उतना ही ज्यादा कॉम्पलिमेंट करेंगी। साथ ही यह आपके लाउड लेगिंग प्रिंट को भी काफी हद तक बैलेंस करेंगी.
ब्लाक प्रिंट का प्रयोग भी किया जा रहा है। खासकर साड़ी और सूट में ब्लाक प्रिंट में कई डिजाइन देख जा सकते हैं। बाटिक प्रिंट भी सदाबहार है। सूती कपड़े पर बाटिक प्रिंट बहुत सुंदर लगता है। आप जो चाहे बनवा सकते हैं। पर्दे से लेकर चादर कुशन कवर सूट साड़ी कुछ भी।
पार्टी वियर के रूप में प्रयोग किए जाने वाले कपड़े सिर्फ फेब्रिक के मामले में ही नहीं, बल्कि डिजाइन और कलर्स के मामले में भी कुछ खास होते हैं। ऐसे अवसरों पर पहने जाने वाले यह प्रिंट जींस-शर्ट, साड़ियाँ, सलवार कमीज, कोट, जैकेट, ट्राउजर्स, बरमूडा, कैप्स, बैग्ज, स्कर्ट-टॉप, स्टील्स आदि सभी में समान रूप से लोकप्रिय हैं।
पोल्का डॉट्स पैटर्न - इन दिनों हिट है पर्स, फुटवेयर, सनग्लासेज, स्कार्फ, टीशर्ट और अन्य ड्रेसेस से लेकर फ्लावर वाज व बेडशीट्स तक में पोल्का डॉट्स पैटर्न हिट है। यह पैटर्न ड्रेसेज में तो पहले भी पापुलर रहा है। पर इस बार बाजार में मौजूद स्मार्ट लेदर एक्सेसरीज में पोल्का डॉट्स प्रिंटी खिलकर आया है उदाहरण के लिए ब्राउन लेदर के पर्स में रेड पोल्का डॉट्स का लुक ही अलग लगता है। यही नहीं नेल आर्ट में भी युवतियों को यह पैटर्नखूब लुभा रहा है। ड्रेस का कलर कोई भी हो उसकी मैचिंग के डॉट्स वाली नेल आर्ट अच्छी लगती है । इस तरह देखें तो हर लिहाज से आकर्षण बिखेरता है यह पैटर्न। आप किस रूप में शामिल करना चाहती हैं इसे अपने स्टाइल व ड्रेसिंग में, यह खुद तय करें।





एक टिप्पणी भेजें

special post